कोरोना वायरस से बचने के लिए जरूर खाएं 10 से 20 रुपये में बिकने वाले ये 5 एंटी-वायरल फूड

covid - 19

कोरोना वायरस से बचने के लिए लोग कई तरह की सावधानी बरत रहे हैं और समय-समय पर अपने हाथों को अच्छे से साफ कर रहे हैं। ये वायरस एक संक्रमण है और इस संक्रमण से खुद को बचाने के लिए एंटी-वायरल चीजों का सेवन भी जरूर करें। एंटी-वायरल चीजें खाने से शरीर अंदर से ताकतवर हो जाता है और इस वायरस से लड़ने के लिए सक्षम बन जाता है। आज हम आपको ऐसे ही पांच एंटी वायरल फूड के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनको खाने से इम्यूनिटी बेहतर बनीं रहती है और इस वायरस से आपका बचाव होता है।

ये एंटी-वायरल फूड बेहद ही सस्ते हैं और आप इन्हें रोज खा सकते हैं। आपको ये एटी वायरल फूड सब्जी मंडी में आसानी से 10 से 20 के रुपये के अंदर मिल जाएगा। तो आइए जानते हैं इन सुपर फुड के बारे में।

ये एंटी वायरल फूड खाने से कोरोना वायरस से होती है शरीर की सुरक्षा

लहसुन


लहसुन शरीर की रक्षा संक्रमण से करता है और इसे खाने से शरीर को संक्रमण लगने का खतरा बेहद ही कम हो जाता है। लहसुन के अंदर एलिसिन नामक तत्व पाया जाता है जो कि कई प्रकार के इंफेक्शन से रक्षा करता है। इसलिए आप रोज लहसुन का सेवन करें और इसे खाएं। लहसुन को आप कच्चा भी खा सकते हैं या इसको सब्जी में भी डाल सकते हैं। इसके अलावा आप इसकी चटनी बनाकर भी खा सकते हैं।


दालचीनी


दालचीनी खाने के स्वाद को बढ़ाने के साथ-साथ शरीर के लिए भी लाभदायक होती है। दालचीनी खाने से शरीर की रक्षा वायरस से होती है। न्यूयॉर्क के टौरो कॉलेज की और से की गई रिर्सच में ये बात साबित हो रखी है कि दालचीनी में एंटीवायरल गुण होते हैं और इसे खाने से वायरल संक्रमण के खिलाफ शरीर को लड़ने में मदद मिलती है। दालचीनी को आप सब्जी में डालकर खा सकते हैं या इसकी चाय भी बनाकर पी सकते हैं।

दही


दही में प्रोबायोटिक पाया जाता है जो कि वायरस से लड़ने में मददगार होता है। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) की और से किए गए शोध के अनुसार, प्रोबायोटिक का सेवन करने से वायरस लगने का खतरा कम हो जाता है।

मशरूम


मशरूम की सब्जी भी सेहत के लिए कारगर मानी जाती है। मशरूम में एंटी-वायरल और एंटी-बैक्टीरियल तत्व पाए जाते हैं। मशरूम का सेवन करने से इम्यूनिटी सही बनी रहती है और वायरस होने की संभावना कम हो जाती है।

मुलेठी


मुलेठी में एंटी-वायरल, एंटी-माइक्रोबायल, एंटी-इंफ्लामेटरी, एंटी-ट्यूमर और कई तरह से गुण पाए जाते हैं। मुलेठी को आयुर्वेद में कारगर माना गया है और इसे खाने से वायरस से रक्षा होती है। मुलेठी का सेवन कई तरह से किया जा सकता है। कई लोग मुलेठी की चाय पीया करते हैं या फिर इसे सब्जी में डालकर खाया करते हैं। मुलेठी की चाय बनाने के लिए एक गिलास पानी को गर्म करने के लिए गैस पर रख दें। इस पानी में मुलेठी का पाउडर डाल दें। इस पानी को अच्छे से उबाल लें और छान कर पी लें।

Thumbnail Source: tentaran.com

ADD YOUR COMMENTS